रात में सोते समय कई बार एेसा होता है सपनों में कुछ चीजें दिख जाती हैं, जिसके कारण नींद अचानक टूट जाती है और हम डरकर उठ जाते हैं। इसके कारण व्यक्ति रात भर सो नहीं पाता और सहम जाता है। कई लोगों को तो रोज इस समस्या का सामना करना पड़ता है। कुछ लोग इसके बारे में किसी से खुलकर बात भी नहीं कर पाते, क्योंकि यह सब कुछ बताने में उन्हें हिच-किचाहट महसूस होती हैं। तो आईए हम आपको बताएं कि अब आपको हिच-किचाने की कोई जरूरत नहीं है, क्योंकि वास्तु शास्त्र में इस समस्या के समाधान के लिए कुछ सरल उपाय बताए गए हैं, जिन्हें सोने से पहले करने से व्यक्ति को इस परेशानी से राहत मिल सकती है। 

उपाय

यदि रात को सोते समय  आपको डर लगता है या अचानक किसी तरह के डर की वजह से आपकी नींद टूट जाती है, तो 5-6 छोटी इलायची को कपड़े में बांध कर अपने तकिए के पास या उसके नीचे रख दें। 

नींद में डर से राहत पाने के लिए रात को सोने से पहले पानी का भरा हुआ तांबे का लोटा अपने बिस्तर के पास रखें और प्रातः उठने पर इस पानी को पौधों में डाल दें।

खासतौर पर यदि घर के बच्चे सोते समय डरकर सहम जाते हैं तो रात को सोने से पहले उनके तकिए के पास या उसके नीचे छोटा सा चाकू रख दें।

यदि चाकू रखना ठीक न लगे तो कोई भी नुकीली चीज को तकिए के नीचे रखने से रात में डर नहीं लगता। 

सोने से पूर्व किसी कपड़े में पीले चावल बांध कर रखने से भी रात में सोते समय डर से छुटकारा मिलता है।

इन बातों के अलावा यदि सोने से पहले बिस्तर को साफ रखा जाए तो रात में किसी भी प्रकार का डर नहीं सताता। गंदे या अव्यवस्थित बिस्तर पर सोने से रात में अजीबो-गरीब सताते हैं।

कुछ लड़कियों को बाल खोल कर सोने की आदत होती है, जो वास्तुशास्त्र के अनुसार अच्छा नहीं माना जाता। इसलिए लड़कियों को हमेशा बाल बांध कर सोना चाहिए।

इस बात का ध्यान अवश्य रखना चाहिए कि घर के जिस कक्ष में बिस्तर हो वहां जूते-चप्पल आदि न हो वरना इसके कारण भी रात में डर लगता है।

सोने से पहले यह ध्यान रखना भी बहुत जरूरी माना जाता है कि चादर का डिजाइन ज्यादा डार्क न हो और चादर कहीं से भी कटी-फटी न हो।