बीसीसीआई (भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड) की एक छोटी से गलती के चलते उसे बड़ी फजीहत का सामना करना पड़ा है। दरअसल बीसीसीआई ने राज्य संघों को भेजे एक पत्र में 2017-18 सत्र की जगह 2016-17 लिख दिया। यह पत्र बीसीसीआई के कार्यवाहक सचिव अमिताभ चौधरी ने राज्य संघों को मुंबई में 28 फरवरी को होने वाली कप्तानों और कोचों की सालाना बैठक में शामिल होने के लिए भेजा था।


बता दें कि इस सालाना बैठक में बीसीसीआई के आला अधिकारी 2016-17 सत्र की रणजी ट्रॉफी के बारे विचार-विमर्श करना चाहते हैं। इसलिए रणजी टीम के सभी कप्तानों और कोचों को आमंत्रित करने के लिए यह पत्र भेजा गया था। हालांकि इस गलती को 'टाइपिंग मिस्टेक' मानकर दरकिनार कर दिया गया, लेकन राज्य संघ इस बात से नाराज हैं कि गलती पता चलने के बाद भी उसमें अभी तक सुधार नहीं हुआ है।