पोर्ट एलिजाबेथ: भारत और दक्षिण अफ्रीका  के बीच जारी छह मैचों की वनडे सीरीज का पांचवां मुकाबला अब से कुछ ही देर बाद खेला जाएगा. चौथे वनडे में हार का सामना करने वाली भारतीय टीम कप्तान विराट कोहली के नेतृत्व में दक्षिण अफ्रीका को हराकर पहली बार इस टीम के खिलाफ उसके घर में कोई द्विपक्षीय सीरीज जीतने का रिकॉर्ड बनाना चाहेगी. भारत ने छह मैचों की वनडे सीरीज के पहले तीन मैचों में धमाकेदार जीत दर्ज की लेकिन चौथे वनडे में मेजबान ने वापसी करते हुए सीरीज को बराबरी पर खत्म करने की अपनी उम्मीदों को बरकरार रखा. पिछले कुछ वर्षो के दौरान वनडे क्रिकेट में दक्षिण अफ्रीका में भारत का रिकॉर्ड खराब रहा है, लेकिन विराट कोहली की कप्तानी में भारतीय टीम इसे बदल सकती है. साल 2013-14 के दौरान हुई वनडे सीरीज में भारत को दक्षिण अफ्रीका के हाथों 0-2 से हार झेलनी पड़ी थी. 2010-11 में हुई सीरीज में मेहमान टीम ने दक्षिण अफ्रीका को कड़ी टक्कर दी थी, लेकिन भारतीय टीम 2-3 से सीरीज हार गई.

मौसम विभाग ने आज  शहर में बारिश होने का अनुमान लगाया है, जिससे टीम संयोजन पर असर पड़ सकता है, क्योंकि दोनों कप्तान मौसम के मिजाज को देखते हुए अंतिम एकादश का चयन करना चाहेंगे. भारतीय बैटिंग के लिहाज से बात करें तो कोहली (393) और शिखर धवन (271) ने मिलकर बाकी बचे बल्लेबाजों (239) द्वारा मिलकर बनाये गए रनों से करीब तीन गुना रन बनाये हैं. यह निश्चित रूप से भारतीय थिंक टैंक के लिए चिंता की बात होगा. इस बात की अनदेखी नहीं की जा सकती कि दक्षिण अफ्रीका भारतीय लाइन की कमजोरी का फायदा उठाकर कोहली और धवन को सस्ते में आउट करना चाहेगा.यह देखना होगा कि मेजबान टीम किस गेंदबाजी संयोजन को उतारती है.

भारत : विराट कोहली (कप्तान), शिखर धवन, रोहित शर्मा, अजिंक्य रहाणे, श्रेयस अय्यर, मनीष पांडे, दिनेश कार्तिक, केदार जाधव, महेंद्र सिंह धौनी, हार्दिक पंड्या, युजवेंद्र चहल, कुलदीप यादव, अक्षर पटेल, भुवनेश्वर कुमार, जसप्रीत बुमराह, मोहम्मद शमी, शार्दूल ठाकुर.


दक्षिण अफ्रीका : एडिन मार्करम (कप्तान), हाशिम अमला, अब्राहम डिविलियर्स, क्विंटन डी कॉक (विकेटकीपर), ज्यां पॉल ड्यूमिनी, फरहान बेहरदीन, इमरान ताहिर, हेइनरिक क्लासेन, डेविड मिलर, मोर्ने मोर्कल, क्रिस मौरिस, लुंगी नगिडी, आंदिले फेहुलकवायो, कागिसो रबादा, तबरेज शम्सी, खायो जोंडो.