जोहान्सबर्ग। हेनरिक क्लासेन (43 नाबाद) और डेविड मिलर (39) के बीच हुई महत्वपूर्ण साझेदारी की मदद से दक्षिण अफ्रीका ने शनिवार को वर्षा बाधित चौथे वनडे में भारत को डकवर्थ लुईस पद्धति से 5 विकेट से हरा दिया। भारत ने शिखर धवन के रिकॉर्ड शतक (109) की मदद से 7 विकेट पर 289 रन बनाए। धवन अपने 100वें वनडे में शतक लगाने वाले पहले भारतीय बल्लेबाज बने।इसके बाद द. अफ्रीका को वर्षा के कारण 28 ओवरों में 202 रनों का संशोधित लक्ष्य मिला, जिसे उसने 25.3 ओवरों में 5 विकेट खोकर हासिल किया। भारत अब छह मैचों की सीरीज में 3-1 से आगे है। इस मैच को जीतकर दक्षिण अफ्रीका ने सीरीज में अपनी उम्मीदों को बनाए रखा है। द. अफ्रीका ने पिंक वनडे में जीत के क्रम को बनाए रखते हुए छठी जीत दर्ज की।

लक्ष्य का पीछा कर रहे दक्षिण अफ्रीका को जसप्रीत बुमराह ने झटका दिया जब उन्होंने कप्तान ऐडन मार्करैम (22) को एलबीडब्ल्यू किया। दक्षिण अफ्रीका ने 290 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए 7.2 ओवरों में 1 विकेट पर 43 रन बना लिए थे। हाशिम अमला 19 रन बनाकर क्रीज पर थे। दक्षिण अफ्रीका को इसके बाद 28 ओवरों में 202 रनों का संशोधित लक्ष्य मिला। कुलदीप ने खेल शुरू होने के तुरंत बाद मेजबान टीम को दो झटके दिए। उन्होंने जेपी डुमिनी (10) को बोल्ड किया और फिर हाशिम अमला (33) को भुवी के हाथों झिलवाया। चोट के बाद टीम में लौटे एबी डीविलियर्स ने कुछ उम्दा शॉट खेले, लेकिन वे पांड्‍या की गेंद पर बाउंड्री पर रोहित को कैच थमा बैठे।


द. अफ्रीका ने 102 रनों पर चौथा विकेट खो दिया था और उस पर खतरा मंडरा रहा था, लेकिन क्लासेन और मिलर ने मात्र 45 गेंदों में 72 रनों की महत्वपूर्ण साझेदारी कर टीम को जीत के करीब पहुंचाया। मिलर 4 चौकों और 2 छक्कों की मदद से 39 रन बनाकर चहल के शिकार बने। इसके बाद क्लासेन और एंडिले फेहलुकवायो ने जीत की औपच‍ारिकताएं पूरी की। क्लासेन 27 गेंदों में 5 चौकों और 1 छक्के की मदद से 42 और फेहलुकवायो मात्र 5 गेंदों में 1 चौका और 3 छक्के की मदद से 23 रन बनाकर नाबाद रहे।


भारत ने शनिवार को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ चौथे वनडे में टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया। रोहित शर्मा एक बार फिर असफल रहे और मात्र 5 रन बनाकर कगिसो रबाडा द्वारा अपनी ही गेंद पर खूबसूरती से लपके गए। इसके बाद शिखर धवन और विराट कोहली ने पारी को संभाला। धवन और विराट ने दूसरे विकेट के लिए 158 रनों की भागीदारी कर भारत को मजबूत स्थिति में पहुंचाया। विराट 7 चौकों और 1 छक्के की मदद से 75 रन बनाकर मॉरिस की गेंद पर कवर्स पर मिलर को कैच थमा बैठे। धवन ने मॉरिस की गेंद पर चौका लगाकर शतक पूरा किया। यह उनका 13वां वनडे शतक है। वे अपने 100वें वनडे में शतक लगाने वाले पहले भारतीय बल्लेबाज बने।


भारत का स्कोर जब 34.2 ओवर के बाद 2 विकेट पर 200 रन था तभी खराब मौसम (पहले जर्बदस्त बिजली चमकने और फिर हल्की वर्षा) के कारण काफी देर तक खेल रुका रहा। इस वक्त धवन 107 और रहाणे 5 रन बनाकर क्रीज पर थे। इसके बाद जब खेल शुरू हुआ तो धवन ने मॉर्केल की गेंद पर डीविलियर्स को कैच थमाया। उन्होंने 105 गेंदों में 10 चौकों और 2 छक्कों की मदद से 109 रन बनाए। इसके बाद रहाणे भी मात्र 8 के निजी स्कोर पर नजीडी के शिकार बने।


केदार जाधव की जगह टीम में लिए गए श्रेयस अय्यर मात्र 18 रन बनाकर नजीडी की गेंद पर मॉरिस को कैच थमा बैठे। इसके बाद कप्तान ऐडन मार्करैम ने कवर्स पर डाइव लगाकर हार्दिक पांड्‍या का शानदार कैच लपका। भुवी 5 रन बनाकर रन आउट हुए। महेंद्रसिंह धोनी 42 और कुलदीप यादव बगैर खाता खोले नाबाद रहे।


भारत ने प्लेइंग इलेवन में एक बदलाव कर केदार जाधव की जगह श्रेयस अय्यर को प्लेइंग इलेवन में शामिल किया। द. अफ्रीका ने प्लेइंग इलेवन में दो बदलाव कर खाया जोंडो की जगह एबी डीविलियर्स को और इमरान ताहिर की जगह मोर्ने मॉर्केल को शामिल किया।


टीमें - भारत : रोहित शर्मा, शिखर धवन, विराट कोहली (कप्तान), अजिंक्य रहाणे, श्रेयस अय्यर, हार्दिक पांड्‍या, महेंद्रसिंह धोनी, भुवनेश्वर कुमार, कुलदीप यादव, जसप्रीत बुमराह, युजवेंद्र चहल।


दक्षिण अफ्रीका : हाशिम अमला, ऐडन मार्करैम (कप्तान), एबी डीविलियर्स, जेपी डुमिनी, फरहान बेहारदीन, डेविड मिलर, क्रिस मॉरिस, हेनरिक क्लासेन, मोर्ने मॉर्केल, एंडिले फेहलुकवायो, कगिसो रबाडा, लुंगी नजीडी ।