जोहानिसबर्ग. साउथ अफ्रीका के खिलाफ 6 वनडे मैचों की सीरीज के चौथे मैच में ओपनर शिखर धवन ने सेंचुरी (109) लगाई। कोहली 75 रन बनाकर आउट हुए। टीम इंडिया ने 50 ओवर में 7 विकेट पर 289 रन बनाए। साउथ अफ्रीका के सामने 290 का टारगेट है। साउथ अफ्रीका की बल्लेबाजी के दौरान मौसम और बारिश के कारण एक बार फिर से मैच को रोकना पड़ा है। खेल रोके जाने तक साउथ अफ्रीका ने 7.2 ओवर में एक विकेट पर 43 रन बना लिए हैं। हाशिम अमला 21 गेंदों पर तीन चौकों की मदद से 19 रन बनाकर क्रीज पर मौजूद हैं। साउथ अफ्रीका को जीत के लिए अभी 42.4 ओवर में 247 रन की जरूरत हैं। जबकि, उसके 9 विकेट बाकी हैं।



भारत की बैटिंग के दौरान भी राेकना पड़ा था मैच


- खराब मौसम की वजह से 34.2 ओवर के बाद मैच रोक दिया गया था। इस वक्त भारत का स्कोर 2 विकेट पर 200 रन था। धवन 107 और रहाणे 5 रन बनाकर नॉट आउट थे।


- दोबारा खेल शुरू हुआ तो शिखर धवन मोर्केल की बॉल पर डिविलियर्स को कैच दे बैठे। उन्होंने 109 रन बनाए।


- भारत की तरफ से इसके अलावा अजिंक्य रहाणे ने 8, श्रेयस अय्यर ने 18, हार्दिक पांड्या ने 9 और भुवनेश्वर ने 5 रन बनाए। धोनी ने 42 रन नॉट आउट बनाए।


कैसी रही भारत की बैटिंग?

- टॉस जीतकर पहले बैटिंग करते हुए टीम इंडिया की शुरुआत एक बार फिर खराब रही। रोहित शर्मा महज पांच रन बनाकर रबाडा का शिकार बन गए। 

- पिछले मैच की तरह ही इस बार भी धवन और कोहली ने टीम को परेशानी से उबारा। दोनों ने शुरू में सिंगल्स के साथ स्कोर बढ़ाया और वक्त गुजरने पर बड़े शॉट्स भी लगाए। कोहली 75 रन बनाकर कवर्स पर कैच आउट हुए। 

- भारत ने इस मैच के लिए अपनी टीम में एक चेंज किया है। केदार जाधव को चोट लग गई है। उनकी जगह श्रेयस अय्यर को टीम में शामिल किया गया है।


डिविलियर्स की वापसी

- साउथ अफ्रीका ने इस मैच के लिए अपनी टीम में खाया जोंडो की जगह स्टार बैट्समैन एबी. डिविलियर्स को खिलाया है। एबी. पिछले तीन वनडे मैचों में चोट की वजह से नहीं खेल पाए थे। 

- साउथ अफ्रीका की टीम में रेग्युलर कैप्टन फाफ डूप्लेसिस और विकेट कीपर क्विंटन डिकॉक भी नहीं हैं।


पिंक जर्सी पहनने के बाद साउथ अफ्रीकी टीम कोई भी मैच नहीं हारी


- पहले वनडे में भारत ने 6 विकेट से जीता था। दूसरे में 9 विकेट से जीत दर्ज की थी। वहीं, तीसरे वनडे में साउथ अफ्रीका को 124 रन से हराया था।


- चौथा मैच साउथ अफ्रीका के लिए अलग अहमियत रखता है, क्योंकि यह पिंक वनडे होगा, जो ब्रेस्ट कैंसर के प्रति जागरूकता के लिए खेला जाता है।


- पहला पिंक वनडे साल 2011 में खेला गया था। कल का मैच छठवां होगा। पिंक जर्सी पहनने के बाद साउथ अफ्रीकी टीम कोई भी मैच नहीं हारी है।


कुलदीप और चहल ने तीन मैच में लिए 21 विकेट

- इस वनडे सीरीज में स्पिनर्स टीम इंडिया की ताकत बनकर उभरे हैं। कुलदीप यादव और युजवेंद्र चहल की जोड़ी ने तीन मैचों में अब तक 21 विकेट लिए हैं।