वेलेंटाइन डे से पहले इस रविवार दिनांक 11 फरवरी 2018 को एक ऐसा शुभ योग बन रहा है। जो प्रेम में सफलता का सूचक है और यह साल के इस समय पर पड़ रहा है। जब हर प्रेमी और प्रेमीका इस लोलुपता में रहते हैं की उसका दिया हुआ निवेदन स्वीकार होगा या नहीं। मूलत: सभी प्रेम संबंधों का संबंध कालपुरूष सिद्धांत के अनुसार कुंडली के पांचवें, सातवें, आठवें और दूसरे भाव से होता है। पंचम भाव का नैसर्गिक रूप से स्वामित्व सूर्य करते हैं तथा सातवें और दूसरे भाव का स्वामित्व शुक्र करता है। कल चन्द्रमा धनु राशि में मूल नक्षत्र में गोचर करेंगे। रविवार के दिन मूल नक्षत्र होने से प्रसन्नता को दर्शाने वाला हर्षण योग निर्मित हो रहा है। मनचाहे प्रेम को सदा के लिए अपना बनाने का प्रभावशाली समय 15:46 से लेकर 16:41 तक है। इसके बाद राहूकाल का आरंभ हो जाएगा। 50 मिनट में अपने मनचाहे साथी को आकर्षित करने में आसानी से सफल हो जाएंगे। अपने प्रेमी या प्रेमिका को आकर्षित करने के लिए करें ये काम-


 


प्रेमी-प्रेमिका को मिलने जाने से पहले दायां पैर आगे बढ़ाएं और पूर्व दिशा में मुड़ें, प्रेम में सफलता मिलेगी।



प्रेमी अथवा प्रेमिका एक दूजे को गिफ्ट में काले रंग की कोई वस्तु भेंट में न दें। इससे जटिल समस्याएं पैदा हो सकती हैं। काले रंग का पहनावा और अन्य काली चीजों का प्रयोग जितना हो सके कम करें। लाल, गुलाबी और सुनहरे पीले रंग की वस्तुओं का भेंट में देना उत्तम है। 



महिलाएं लाल रंग के कपड़े पहन कर लाल रंग की लिपस्टिक लगाएं और गुलाब के इत्र का प्रयोग करें।



पुरूष सफेद कपड़े पहन कर चमेली का इत्र लगाएं। 



सफेद वस्त्र पहन कर देवालय जाएं लाल गुलाब और चमेली का इत्र अर्पित करें।