छत्तीसगढ़ विधानसभा में शुक्रवार को बजट सत्र की शुरुआत हंगामे से हुई है. प्रदेश में गायों के मुद्दे को लेकर विपक्ष ने जोरदार हंगामा किया. इसके बाद कुछ देर के लिए सदन से वॉकआउट कर दिया. प्रदेश की गोशालाओं में गायों की मौत मामले में सवाल जवाब को लेकर हंगामा किया गया.


शुक्रवार को बजट सत्र की शुरुआत में ही उपनेता प्रतिपक्ष कवासी लखमा ने सदन में प्रदेश में फर्जी पंजीकृत गोशालाओं पर कार्रवाई को लेकर सवाल खड़े किए. लखमा ने कहा कि गोशालाओं में गायें मर रही हैं. ​फिर भी सरकार द्वारा कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है. विपक्ष ने गोशालाएं बंद करने की मांग सदन में की.


नेताप्रतिपक्ष टीएस सिंहदेव ने सदन में कहा कि क्या पिछले दो साल में 6325 पशुधन की मृत्यु हुई हैं. इस पर मंत्री ब्रजमोहन अग्रवाल ने दिया जवाब कहा कि प्रदेश में जो पशु पकड़े जाते है, और जो पशुओं की मौत हुई है, उसमें अलग अलग जानवर हैं. पशु क्रुरता अधिनियम के तहत जिम्मेदारों पर कार्रवाई की जा रही है. गायों के सवाल पर सदन में विपक्ष के साथ ही सत्तापक्ष के सदस्यों ने भी हंगामा किया.