जबलपुर। गंगा की तरह नर्मदा नदी हमारे देश के बड़े हिस्से की जीवनदायनी है। नर्मदा नदी हमारे धर्म, संस्कृति और करोड़ों लोगों के जीवन से सीधे जुड़ी हुई है। भारत-तिब्बत सीमा पुलिस (आईटीबीपी) के जवान भारत-तिब्बत की 3484 किलोमीटर लंबी सरहद की सुरक्षा जिस बेहतरी से कर रहे हैं, ठीक उसी तरह हमने देश की नदियों को स्वच्छ और प्रदूषण रहित बनाने का संकल्प लिया है। गंगा के बाद नर्मदा नदी के 750 किलोमीटर लंबे क्षेत्र से इस मिशन की शुरुआत की जा रही है।


हाथ से तिरंगा लहराकर हुए आईटीबीपी के महानिदेशक आरके पंचनंदा ने जैसे ही भारत माता का जयकारा लगाया, 20 जवानों का दल रिवर राफ्टिंग के साथ भेड़ाघाट के सरस्वती घाट में उतरकर स्वच्छ नर्मदा मिशन में जुट गया। इस मौके पर आईटीबीपी के आईजी एसएस आरका, आईजी ऑपरेशन पीएस पास्ता, डीआईजी रमन खंडवाल, कमांडेंट आरएन सिंह, आईजी जबलपुर अनंत कुमार सिंह, डीआईजी भगवत सिंह चौहान, एसपी शशिकांत शुक्ला, एएसपी संजय साहू समेत आईटीबीपी और जिला पुलिस बल के साथ सैकड़ों ग्रामीण मौजूद रहे।


रोज 30 से 35 किमी यात्रा


स्वच्छ नर्मदा मिशन टीम का नेतृत्व कर रहे डॉ. टेकचंद लीडर ने बताया कि इस मिशन के दौरान हर दिन 30 से 35 किलोमीटर की यात्रा की जाएगी, जिसमें सफाई के साथ किस हिस्से में किस स्तर का प्रदूषण हो रहा है, इसकी बारीकी से रिपोर्ट भी बनाई जाएगी। इसके अलावा अवैध उत्खनन और नर्मदा के स्वाभाविक रास्ते को बाधित करने वाले सभी कारणों की भी रिपोर्ट तैयार की जाएगी।


पड़ाव डालकर करेंगे लोगों को जागरुक


टीम के उपनेता इंस्पेक्टर रजतवीर सिंह ने बताया कि तीन नावों में 20 जवानांे का दल हर दिन की यात्रा पूरी करने के बाद नर्मदा से लगे गांव में पड़ाव डालकर स्वच्छता, जल संरक्षण, प्रदूषण की रोकथाम के लिए लोगों को जागरुक करेंगे। इसके अलावा ग्रामीण युवाओं को आईटीबीपी और अन्य रोजगारों की जानकारियां भी दी जाएंगी।


तीन प्रदेश में रहेगी यात्रा


आटीबीपी की स्वच्छ नर्मदा मिशन की यात्रा 18 दिन में प्रदेश के 11 जिलों के साथ महाराष्ट्र और गुजरात के कई जिलों में पहुंचेगी। इस टीम के 20 सदस्य लगातार रिवर राफ्टिंग करेंगे जबकि 40 लोगों की अलग टीम खाना-पीना, चिकित्सा और अन्य सामग्री लेकर अलग से सफर करेगी।


ये जवान रहेंगे शामिल


नदी के रास्ते से स्वच्छता और जागरूकता करने वाली टीम में नेता डॉ. टेकचंद लीडर, उपनेता इंस्पेक्टर रजतवीर सिंह, हवलदार कुंदर सिंह, जितेन्द्र सिंह, सुभाष घोष, ग्यारसीलाल, अजब सिंह, आशीष सिंह, रवींद्रो सिंह, विनय जोसेफ, संजय मैथ्यूज, धर्मेंद्र चौधरी, नीलेश लाल, गोर्डसन वर्गिस, संदीप कुमार, मनोहरलाल, गुरबख्शी सिंह, सुरेश कुमार, अर्जुन सिंह और विनीत कुमार हैं।