पीरियड्स के दौरान महिलाएं तमाम तरह की दिक्कतों का तो सामना करती ही हैं, मानसिक तौर से भी वे परेशान हो जाती हैं। एक तरफ लीकेज की चिंता तो दूसरी तरफ क्रैम्प्स की समस्या। ऐसे में इरिटेशन और स्ट्रेस को दूर रखने के लिए आप अपनी मनपसंद चीजें खाना पसंद करती हैं, वहीं कई लड़कियां इस दौरान दर्द से राहत पाने के लिए चाय का ज्यादा सेवन करती हैं। अगर आप भी ऐसा करती हैं, तो आपको बता दें कि आप बड़ी भूल करती आ रही हैं। जी हां, पीरियड्स के दौरान चाय पीने के कई नुकसान हैं जो हम आपको बताने जा रहे हैं...

कैफीन की ज्यादा मात्रा से हार्ट रेट और ब्लड प्रेशर बढ़ जाता है। इससे घबराहट और तनाव बढ़ता है और आप और भी ज्यादा असहज हो जाती हैं।ब्लैक टी में सबसे ज्यादा मात्रा में कैफीन होता है। एक कप ब्लैक टी में लगभग 40-60 मिलिग्राम कैफीन होता है। पीरियड्स में इसका सेवन न ही करें तो अच्छा है।वैसे तो ग्रीन टी को सेहत के लिए काफी अच्छा माना जाता है, लेकिन पीरियड्स के दौरान इससे भी बचना चाहिए। ग्रीन टी में ऐसा कम्पाउंड होता है जो आयरन को शरीर में अब्जॉर्ब होने से रोकता है। यदि आप ग्रीन टी पीने की शौकीन हैं, तो इसके साथ ही आयरन रिच खानपान का सेवन करती रहें।हर प्रकार की चाय में टैनिक ऐसिड होता है। इससे भी बॉडी में आयरन ठीक से अब्जॉर्ब नहीं हो पाता है। इसके अलावा इससे सिरदर्द, इरिटेशन, अनिद्रा और घबराहट भी होती है।