आपको जानकर हैरानी होगी कि पानी के नीचे दुनिया की सबसे लंबी सुरंग सदियों से कई राज अपने सीने में लिए जलमग्न थी। जब खोजकर्ताओं ने इसे ढूंढ निकाला तो कई चौंकाने वाले खुलासे हुए। इसके बारे में जानकर आपको भी हैरानी होगी। 

दरअसल, इस सुरंग को माया सभ्यता से जोड़कर देखा जा रहा है। आप आसानी से स्पेन के कब्जे में आने से पहले माया सभ्यता की उत्कृष्ट परंपरा और संस्कृति का पता लगा जा सकता है, लेकिन इसके लिए आपको इतिहास के पन्ने पलटने होंगे। उस काल में बसाई गई बस्तियों और तीर्थस्थलों की जानकारी दी गई है। लेकिन इस सुरंग का जिक्र उसमें है या नहीं ये कहा नहीं जा सकता। 

आपकी जानकारी के लिए बता दें गोताखोरों के एक समूह ने पूर्वी मैक्सिको में पानी के नीचे इस सुरंग को खोज की है। इसकी लंबाई जानकर आपको यकीनन हैरानी होगी। 

यह सुरंग 347 किलोमीटर लंबी है। कहा जा रहा है कि इस खोज के बाद मैक्सिको के आसपास के क्षेत्रों में विकसित हुई प्राचीन माया सभ्यता के बारे में और जानकारी प्राप्त हो सकती है। आइए जानते हैं इसके बारे में कुछ और दिलचस्प बातें..

​दक्षिणपूर्वी मेक्सिको में स्थित युकाटन प्रायद्वीप में पानी के नीचे स्थित सुरंग ढूंढने के लिए ग्रैन एक्युफेरो माया (जीएएम) अभियान चलाया जा रहा था। इसी के तहत सैक एकटन नाम की सुरंग की खोज हुई है। बता दें इस सुरंग की लंबाई मापने में खोजकर्ताओं को काफी दिन लग गए। पहली बार में इस सुरंग की लंबाई 263 किलोमीटर मापी गई थी। लेकिन जब तुलुम स्थित जलमग्न सुरंगों की श्रृंखला डॉस ओजोस से जोड़ी गई तो इसकी लंबाई करीब 347 किमी हो गई।