नई दिल्ली। रिलायंस इंडस्ट्री ने की जियो ने तिमाही में 504 करोड़ का मुनाफा कमाया है। मुकेश अंबानी की इंडस्ट्री ने इस मुनाफे के चलते सभी को हैरान कर दिया। इंडस्ट्री की इस सफलता के पीछे मोदी सरकार के एक फैसले का बहुत बड़ा हाथ है।


साल 2017 में भारतीय दूरसंचार विनियामक प्राधिकरण (ट्राई) ने इंटरकनेक्शन यूसेज चार्ज यानी IUC में 57% की कटौती की थी। IUC चार्ज में हुई कटौती से चलते तीसरी तिमाही में जियो ने 1058 करोड़ रुपए की बचत की और जियो का ऑपरेटिंग प्रॉफिट 90 फीसदी बढ़ गया और कंपनी तो तीसरी तिमाही में 504 करोड़ का मुनाफा हुआ।


इसी के चलते जियो ने तीसरी तिमाही में 504 करोड़ का मुनाफा कमाया। सरकार के इस फैसले की वजह से अब तक घाटे में चल रही कंपनी मुनाफे में आ गई। इस फैसले से जियो को अब तक का सबसे ज्यादा मुनाफा हुआ है।


ट्राई के इस फैसले से जियो ने अपने 1058 करोड़ रुपए बचाकर लाभ हासिल किया। आइडिया, एयरटेल, वोडाफोन जैसी कंपनियों को इसकी वजह से नुकसान हुआ। ऐसा इसलिए क्योंकि ट्राई के फैसले के मुताबिक जियो को अक्टूबर तक आईयूसी चार्ज के तौर पर मोटी रकम चुकानी पड़ रही थी, जिससे दूसरी कंपनियों को लाभ हो रहा था, लेकिन आईयूसी चार्ज घटने से दूसरी कंपनियों को मिलने वाला ये चार्ज कम हो गया और जियो की बचत हुई।