फ्रेंच की एक स्टार्ट-अप कंपनी हाइड्रोजन पावर्ड इलेक्ट्रिक साइकल्स बनाने की शुरुआत करने वाली पहली कंपनी बन गई है। इन साइकल्स को कॉर्पोरेट या म्युनिसिपल फ्लीट्स में इस्तेमाल करने के लिए बनाया गया है। फ्रेंच कंपनी प्राग्मा इंडस्ट्रीज ने इन्हें बनाया है।आइए, जानते हैं कि क्या हैं खासियतें...

अल्फा बाइक
यह कंपनी मिलिटरी यूज के लिए फ्यूल सेल्स बनाती है। इसने फ्रेंच की नगरपालिकाओं को 60 हाइड्रोजन पावर्ड बाइक्स बेची हैं। कंपनी ने इस इलेक्ट्रिक साइकल का नाम अल्फा बाइक रखा है।

एक साइकल की कीमत है 6 लाख रुपए
कंज्यूमर मार्केट के लिहाज से तो ये साइकल्स काफी महंगी है। दरअसल, एक हाइड्रोजन साइकल की कीमत 7,500 यूरो यानी तकरीबन 6 लाख रुपए है।

प्रीमियम इलेक्ट्रिक बाइक्स की लाइन में अाएगी ऐसे
हालांकि, कंपनी इनकी कीमत पांच हजार यूरो तक घटाने की कोशिश कर रही है। अगर ऐसा हो जाता है तो ये साइकल्स प्रीमियम इलेक्ट्रिक बाइक्स की लाइन में शामिल हो सकेंगी।

यह पहला प्रॉडक्शन मॉडल है
कंपनी के फाउंडर और चीफ एग्जिक्यूटिव पाएरे फोर्टे के मुताबिक, कई अन्य कंपनियों के पास हाइड्रोजन बाइक का प्रोटोटाइप तो है लेकिन हमारी कंपनी पहली है जिसने ऐसी बाइक्स को बनाकर दिखाया है।

2 लीटर गैस में 100 किलोमीटर की दूरी
अल्फा बाइक 2 लीटर हाइड्रोजन में 62 मील यानी तकरीबन 100 किलोमीटर की दूरी तय कर सकती है। यह रेंज किसी इलेक्ट्रिक बाइक जैसी ही है। हालांकि, इसकी अच्छी बात यह है कि किसी ई—बाइक की तुलना में यह बहुत जल्दी चार्ज हो जाती है।

बैटरी के मुकाबले 600 गूणा अधिक एनर्जी
इतना ही नहीं, एक किलो हाइड्रोजन में एक किलो की लिथियम आयन बैटरी के मुकाबले लगभग 600 गुणा अधिक एनर्जी होती है। इन्हें बनाने वाली कंपनी री-फ्यूलिंग स्टेशंस भी बेचती है जिनके जरिए हाइड्रोजन बनाई जा सकती है।