अहमदाबाद इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू अपने भारत दौरे के चौथे दिन बुधवार को गुजरात के अहमदाबाद पहुंचे. यहां वो सबसे पहले साबरमती आश्रम गए, जहां उन्होंने अपनी पत्नी के साथ बापू की तस्वीर पर सूत की माला चढ़ाई. साथ ही वहां रखा चरखा भी चलाया.


आश्रम से पीएम नरेंद्र मोदी और नेतन्याहू धोलेरा गांव के 'आई क्रिएट' सेंटर पहुंचे. दोनों देशों के प्रधानमंत्री ने संयुक्त रूप से सेंटर का उद्घाटन किया.


यह सेंटर शहर के पास बावला टाउन में स्वायत्त सेंटर ऑफ एक्सीलेंस हैं. मोदी जब 2011 में राज्य के मुख्यमंत्री थे तब औपचारिक तौर पर 'आई क्रिएट' शुरू किया गया था. यह संस्थान उदीयमान उद्यमियों को परामर्श देता है और स्टार्ट अप शुरू करने के लिए उनका मार्गदर्शन करता है.


यहां आयोजित कार्यक्रम में दोनों नेता मौके पर उपस्थित जनसमूह को संबोधित करेंगे और 40 एकड़ में फैले इस भव्य केंद्र को राष्ट्र को समर्पित करेंगे. इस दौरान मुकेश अंबानी, अनिल अंबानी, गौतम अडानी, कुमार मंगलम बिड़ला समेत कई बड़े उद्योगपति मौजूद रहेंगे.


क्या है आई क्रिएट


आई क्रिएट एक स्वतंत्र संस्था है, जिसका उद्देश्य उद्यमियों को क्रिएटिविटी, इनोवेशन, प्रोडक्ट डिजाइन और नई तकनीक के जरिए फूड सिक्योरिटी, जल, कनेक्टिविटी, साइबर सिक्योरिटी, आईटी और इलेक्ट्रॉनिक्स, नॉन-कन्वेंशनल एनर्जी, बॉयोमेडिकल इक्विपमेंट और डिवाइस इत्यादि क्षेत्रों में मदद करती है.


दुनिया भर से प्रतिभाओं को लुभाने की खातिर आई क्रिएट का लक्ष्य भारत में एक ऐसे इकोसिस्टम को बनाना है, जिससे बड़ी संख्या में गुणवत्तापूर्ण उद्यमी पैदा हो. आईक्रिएट के शब्दों में ही कहे, तो मनी, मेंटर और मार्केट का वन स्टॉप शॉप, जो उद्यमियों को हर समस्या का हल उपलब्ध कराती है.