ग्वालियर। बीएसएफ अकादमी टेकनपुर में रविवार को नेशनल डीजी कांफ्रेंस में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आंतरिक व बाह्य सुरक्षा पर देश के टॉप मोस्ट सुरक्षा अधिकारियों के साथ 9 घंटे मैराथन विचार-विमर्श किया। कांफ्रेंस में पीएम की मौजूदगी में गृह मंत्री राजनाथ सिंह व देश के रक्षा सलाहकार अजीत डोभाल ने आंतरिक सुरक्षा पर प्रजेंटेशन दिया। इस प्रजेंटेशन को मोदी ने एकाग्रचित होकर देखा और प्वॉइंट भी नोट किए। सुरक्षा मुद्दों को लेकर मंथन सोमवार की शाम तक चलेगा। सोमवार सुबह अधिकारियों के साथ योग से दिन की शुरुआत कर दोपहर में संयुक्त सेशन को संबोधित करेंगे।


गुवाहटी, हैदराबाद व कच्छ में हुई डीजी कांफ्रेंस में लिए गए निर्णय कितने लागू हो पाए, इसकी जानकारी गृह मंत्रालय ने पहले से ही राज्यों से मंगा ली थी। इस रिपोर्ट को भी कांफ्रेंस में सबसे पहले प्रधानमंत्री के सामने प्रस्तुत किया गया। कच्छ की कांफ्रेंस में पीएम ने स्पष्ट कर दिया था कि 2017-2018 में होने वाली कांफ्रेंस में सबसे पहले वह यह देखेंगे कि पिछली बार लिए गए निर्णय कितने लागू हुए।


बंद कमरे में गृहमंत्री ने ली बैठक- कांफ्रेंस में लंच के बाद पीएम मोदी ने गृहमंत्री राजनाथ सिंह , रक्षा सलाहकार अजीत डोभाल, गृहराज्य मंत्री किरण रिजिजू व आईबी के आला अधिकारियों के साथ बंद कमरे में बैठक की।


पीएम ने अकादमी के 5 भवनों का लोकार्पण किया


पीएम ने बीएसएफ अकादमी टेकनपुर में स्पेशलिस्ट ट्रेनिंग स्कूल एडीएम ब्लॉक, फिजिकल एक्टीविटी एवं मल्टी परपज हॉल, रिसर्च एंड डेवलपमेंट ब्लॉक, ओडिटोरियम एवं ट्रेनी ऑफिसर्स मैस भवन का लोकार्पण किया।


सीएम ने की मोदी की अगवानी


इससे पहले रविवार सुबह आठ बजे डीजी कांफ्रेंस में भाग लेने आए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ग्वालियर एयरपोर्ट पर सीएम शिवराज सिंह चौहान ने आगवानी की । सीएम के साथ ही केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर, प्रदेश की मंत्री माया सिंह, जयभान सिंह पवैया, नरोत्तम मिश्रा, महापौर विवेक शेजवलकर के साथ अन्य अधिकारी उपस्थित थे। अगवानी के बाद पीएम हेलिकॉप्टर से बीएसएफ अकादमी टेकनपुर पहुंचे। उनके हेलिकॉप्टर की सुरक्षा के लिए 2 हेलिकॉप्टर भी आसमान में उड़ान भर रहे थे। अकादमी के हैलीपेड पर गृहमंत्री राजनाथ सिंह, गृहराज्य मंत्री हंसराज अहीर ने स्थानीय अधिकारियों के साथ पीएम की अगवानी की ।