नई दिल्ली राज्यसभा के लिए संजय सिंह, नारायण दास गुप्ता और सुशील गुप्ता के नामों का ऐलान होने के बाद से आम आदमी पार्टी (AAP) में जारी घमासान गहराता जा रहा है. पार्टी के नेताओं और कुमार विश्वास के बीच जुबानी जंग और आरोप-प्रत्यारोप का सिलसिला बढ़ता जा रहा है.


अब आम आदमी पार्टी के दिल्ली प्रदेश संयोजक गोपाल राय ने कुमार विश्वास पर निशाना साधा है. उन्होंने कवि कुमार विश्वास पर पार्टी को तोड़ने की कोशिश करने का सनसनीखेज आरोप लगाया है.


AAP नेता गोपाल राय ने कहा कि कुमार ने विधायकों के साथ मिलकर पार्टी को तोड़ने की कोशिश की.  उन्होंने कहा कि क्या पार्टी को तोड़ने वाले को राज्यसभा भेज देना चाहिए?


वहीं, AAP नेता कुमार विश्वास को टिकट नहीं मिलने से खफा उनके समर्थक दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के घर पहुंच गए. इसके अलावा राज्यसभा के लिए तय तीनों उम्मीदवारों के लिए प्रस्तावक जुटाने के लिए पार्टी के 30 विधायकों को देर शाम सीएम हाउस तलब किया गया. 


खास बात ये है कि इन विधायकों को विधायकों की मीटिंग के बाद दोबारा बुलाकर पार्टी प्रत्याशियों का प्रस्तावक बनने को कहा गया.


टिकट नहीं मिलने पर कुमार ने सीधे केजरीवाल पर बोला था हमला


राज्यसभा के लिए नहीं चुने जाने पर प्रतिक्रिया देते हुए कुमार विश्वास ने AAP के संयोजक केजरीवाल पर निशाना साधा था. उन्होंने कहा था, ''सब अपनी लड़ाई लड़ रहे हैं. आप अपनी लड़ रहे हैं. मैं अपनी लड़ रहा हूं.''


उन्होंने कहा, ''मैं बहुत शुभकामाएं देता हूं, जिनको रामलीला मैदान के लिए चुना है. मैं अरविंद और पूरी पार्टी जिन लोगों ने तय किया है उनको बधाई देता हूं. नवनीत बना कर भेजा है देश के सर्वोच्च सदन में जहां अटल और इंदिरा की आवाज गूंजी है.'' कुमार ने कहा कि नैतिक रूप से एक कवि, मित्र और आंदोलनकारी की जीत हुई है.


राज्यसभा के लिए चुने गए लोगों पर भी कसा था तंज


बुधवार को कुमार विश्वार ने नारायण दास गुप्ता और सुशील गुप्ता के नाम पर तंज भी कसा था. विश्वास ने कहा था कि पिछले 40 साल से मनीष सिसोदिया के साथ काम कर रहे, 12 वर्ष से अरविंद के साथ काम कर रहे, 7 साल से कार्यकर्ताओं के लिए और 5 साल से पार्टी के लिए ट्वीट, बहस कर जिन्होंने पार्टी को खड़ा किया ऐसे महान क्रांतिकारी सुशील गुप्ता और नारायण दास गुप्ता को राज्यसभा जाने के लिए बधाई देता हूं.