नए साल की शुरुआत के साथ ही लोग जिंदगी में भी कई चीजों की नई शुरुआत करना चाहते हैं। लोग रेजॉलूशन लेते हैं। नए साल पर कोई खुद से अपनी सेहत का ध्यान रखने का वादा करता है, तो कोई अपने रिश्ते सुधारने की सोचता है। 

बदलाव के रिजॉलूशन के बावजूद, अगर गूगल ट्रेंड को देखा जाए तो यह कुछ और ही स्थिति बयां करता है। डिवोर्स सपोर्ट सर्विस 'ऐमिकेबल' द्वारा देखे गए डेटा के अनुसार जनवरी में 40 हजार पांच सौ से ज्यादा लोग जनवरी में 'डिवोर्स' (तलाक) सर्च करेंगे। गूगल ट्रेंड से भी जनवरी में इस संख्या में बढ़ोत्तरी होने की बात पता चलती है। गूगल ट्रेंड के अनुसार जनवरी 2012 और जनवरी 2016 में इस दशक में सबसे ज्यादा बार 'डिवोर्स' सर्च किया गया। 


ट्रेंड के अनुसार मई और अगस्त में भी इस संख्या में बढ़ोत्तरी देखी जाती है। गूगल डेटा के अनुसार दिसंबर में 'डिवोर्स' सर्च करने वालों की संख्या स्थायी बनी है। 'ऐमिकेबल' की को-फाउंडर केटी डेली के अनुसार क्रिसमस सेलिब्रेशन के बाद अचानक आ जाने वाले सन्नाटे की वजह से लोगों में निराशा भर जाती है। ऐसा आर्थिक परेशानियों, बदलाव लाने की चाहत और उम्मीदों के पूरा न होने के कारण होता है। केटी के अनुसार रिश्ते अचानक खराब नहीं होते हैं, लेकिन जनवरी महीनों से नजरअंदाज की जा रहीं परेशानियों पर नजर डालने के लिए पहला मौका लेकर आती है। जनवरी का पहला वर्किंग डे 'डिवोर्स डे' की तरह हो जाता है।