ऐपल के प्रोडक्ट्स महंगे मिलते हैं इनमें से एक iPhone भी है. प्रोडक्ट्स के अलावा इसके पार्ट्स भी महंगे मिलते हैं इसलिए खराब होने के बाद आईफोन कस्टमर्स को दूसरे स्मार्टफोन्स के मुकाबले ज्यादा पैसे देकर रिपेयर कराना होता है. इन पार्ट्स में बैटरी भी शामिल है, लेकिन अब कंपनी ने बैटरियां सस्ती कर दी हैं. ये कटौती ग्लोबल है और भारत में भी इसका असर पड़ेगा.


हाल ही में कंपनी ने माना था कि पुराने iPhone की लाइफ बढ़ाने और अनचाहे शटडाउन से बचने के लिए परफॉर्मेंस को कम किया जाता है. इसके बाद कंपनी पर लगातार मुकदमे शुरू हो गए जिसके बाद कंपनी को अपने कस्टमर्स से माफी मांगनी पड़ी. माफी के साथ ऐपल ने ऐलान कर दिया की iPhone 6 और इससे आगे के मॉडल्स की बैटरियों की कीमतें कम कर दी गई है.


अगर आप पुराना iPhone इस्तेमाल करते हैं और बैटरी के साथ कोई समस्या है या बैकअप कम मिल रहा है तो आपके पास मौका है सस्ते में बैटरी बदलवाने का. iPhone 6 और इससे आगे की बैटरी 50 डॉलर से घट कर 29 डॉलर तक हो गई है. इससे पहले इसकी कीमत 79 डॉलर थी.


भारत की बात करें तो इन मॉडल के आईफोन की बैटरी रिप्लेस्मेंट के लिए आपको 6,500 रुपये तक देने होते थे, लेकिन खबर है कि अब आप बैटरी रिप्लेस्मेंट सिर्फ 2,000 रुपये में ही करा सकता हैं. हालांकि टैक्स के पैसे इसमें शामिल नहीं है.


ऐपल ने कहा है कि पुराने iPhone में नई बैटरी लगाने से किसी तरह के स्लो होने से जुड़े अपडेट की समस्या से बचा जा सकता है. कंपनी ने कहा है कि पहले दिया जाने वाला फीचर आईफोन में रहेगा, लेकिन आने वाले iOS अपडेट के साथ कस्टमर्स को iPhone बैटरी हेल्थ के बारे में ज्यादा बेहतर तरीके से जानकारी मिलेगी.


गौरतलब है कि ऐपल के खिलाफ किए गए ताजा मुकदमे में iPhone ऑनर्स ने कहा है कि ऐपल ने फोन स्लो करने से पहले उन्हें इस बात की जानकारी भी नहीं दी है और पुरानी बैटरी को न बदलने को लेकर कंपनी पर फ्रॉड करने का मामला दर्ज किया गया है.