बदलते लाइफस्टाइल के कारण लोगों ने पैदल चलना और साइकिल का इस्तेमाल करना बहुत कम कर दिया है। लोग ज्यादातर कार या बाइक चलाते हैं लेकिन क्या आप जानते हैं कि शरीर को स्वस्थ रखने के लिए साइकलिंग बहुत महत्वपूर्ण है। साइकिल चलाने से मांसपेशियां मजबूत होती हैं,हृदय स्वस्थ और रक्त संचार भी ठीक रहता है। रोजाना सुबह खुली हवा में साइकिल चलाने से इंसान का मन खुश रहता है, तनाव कम हो जाता है और साथ ही आत्मविश्वास भी बढ़ता है। जो व्यक्ति नियमित रूप 30 मिनट तक साइकलिंग करता है वह वजन को आसानी से कंट्रोल कर लेता है। आइए जानें साइकलिंग के फायदे। 

1. ऐरोबिक एक्सरसाइज


एेरोबिक स्वस्थ रहने का सबसे आसान तरीका है। इससे शरीर से एकस्ट्रा फैट आसानी से बर्न की जा सकती है। जिससे मोटापा होने का खतरा कम हो जाता है लेकिन ऐरोबिक्स एक्सरसाइज करने का समय नहीं मिल रहा या फिर क्लासिस ज्वाइन करने में दिक्कत हो रही है तो रोजाना साइकिल चलाने से अलग से कसरत करने की आवश्यकता नहीं होती। इससे दिल से संबंधित रोग से भी बचाव रहता है। 

2. तनाव कम

साइकल चलाने से सेरोटोनिन, डोपामाइन व फेनाइलेथैलामाइन जैसे रिसायनों बढ़  जाते हैं जो दिमाग से उदासी पैदा होने वाले रिसायनों को खत्म कर देता है, जिससे  खुशी महसूस होने के साथ ही तनाव दूर होता है।

 


3. पैरों की कसरत

लगातार साइकिल चलाने से पैरो की पूरी कसरत होती है। इससे घुटनों का दर्द, जोड़ो के दर्द से राहत मिलती है। 

 


4. सही मात्रा में पानी पीएं


डायबटीज बाले लोगों को साइकिल चलाने से पहले कम से कम 1 गिलास पानी पीना चाहिए। इस बीमारी से ग्रस्त व्यक्ति को 1 घंटे से ज्यादा साइकिल चलानी चाहिए और अपने साथ हमेशा कार्बोहाइड्रेट युक्त भोजन रखना चाहिए।

 


5. ब्लड शुगर की जांच

डायबटीज के रोगी को बाकी लोगों की तुलना में ज्यादा दूरी तक साइकिल चलानी चाहिए। साइकिल चलाने से पहले और बाद में ब्लड शुगर की जांच जरूर करें।