मायकोइक्टीरियम ट्यूबरकुलोसिस बैक्टीरिया के कारण फैलने वाला टीबी एक संक्रमण रोग है। पेट, किडनी, रीढ़ की हड्डी या ब्रेन में टीबी होना आजकल बहुत आम हो गया है। इसके कारण मरीज को सीने में दर्द, भूख न लगना, सांस लेने में तकलीफ, कमजोरी, तेज खांसी, कफ और बुखार होने लगता है। इस रोग का शुरूआती इलाज न करने पर यह जानलेवा भी साबित हो सकता है। परिवार में किसी एक सदस्य को यह रोग होने पर बाकि लोगों को सावधानी बरतनी चाहिए, खासकर बच्चों को ऐसे रोगी से दूर रखें। क्योंकि सिर्फ खांसने और छिकनें से भी यह जीवाणु एक से दूसरे व्यक्ति तक पहुंच जाते है। एक रिसर्च के अनुसार हर साल 4,00,000 लोग लापरवाही के कारण इस बीमारी की चपेट में आ जाते है। इस रोग के होने पर आप डॉक्टरों की दवाओं के साथ कुछ घरेलू उपाय भी कर सकते हैं, जिससे यह रोग जल्द से जल्द दूर हो जाएगा। तो आइए जानते है टीबी के घरेलू नुस्खें और लक्षण , जिससे आप इस बीमारी को दूर कर सकते है।


टीबी के लक्षण

3 हफ्ते तक लगातार खांसी 

भूख न लगना

वजन कम हो जाना

बुखार और ठंड लगना

लगातार खांसी के साथ बलगम व खून निकलना

सांस लेने में तकलीफ

गर्दन की ग्रंथियों में सूजन

सीने में दर्द

थकान, कमजोरी


टीबी रोग के घरेलू उपाय:-

1. लहसुन

सल्फयूरिक एसिड से भरपूर लहसुन टीबी के कीटाणुओं को खत्म करने में मदद करता है। इसके लिए आधा चम्मच लहसुन, 1 कप दूध और 4 कप पानी को एक साथ उबालें। इसे दिन में 3 बार पीने से टीबी रोग दूर हो जाता है।


2. शहद

200 ग्राम शहद, 200 ग्राम मिश्री, 100 ग्राम घी को अच्छी तरह मिक्स कर लें। दिन में 2-3 बाद इसे टीबी मरीज को चटाए और इसके बाद गाय या बकरी का दूध पिला दें। इससे टीबी जड़ से खत्म हो जाएगी।


3. पीपल के पत्ते

पीपल के पत्तों को जलाकर इसकी 10 ग्राम राख को 20 ग्राम तक बकरी के गर्म दूध में मिक्स करें। इसमें थोड़ा सा शहद मिलाकर रोजाना पीएं। टीबी रोग हमेशा के लिए दूर हो जाएगा।


4. संतरा

टीबी रोग होने पर ताजा संतरे के जूस में नमक और शहद मिलाकर रोजाना सुबह-शाम पीएं। इसके अलावा संतरा खाने से भी टी बी के रोगी को फायदा होता है।


5. काली मिर्च

फेफड़ों में जमा कफ और खांसी को दूर करने के लिए थोड़े से मक्खन में 8-10 काली मिर्च फ्राई करके इसमें 1 चुटकी हींग मिलाकर पीस लें। इस मिश्रण को तीन बराबर भागों में बांटकर दिन में 7-8 बार लें।


6. हींग

1 चुटकी हींग में आधा कप प्याज का रस मिलाएं। रोजाना सुबह खाली पेट इसका सेवन टीबी रोग को 1 हफ्ते में ही दूर कर देता है।