नववर्ष का शुभारंभ इस वर्ष 5 संयोगों से हो रहा है। पहली जनवरी को पौष एवं शाकंभरी पूर्णिमा रहेगी और सायं 4 बजे तक सर्वार्थ तथा अमृत सिद्धि योग भी रहेंगे। जनवरी मास में ही पंच स्नान पर्व भी होंगे। मकर संक्रांति 14 जनवरी, अमावस्या का स्नान 16 को, बसंत पंचमी 22 तथा 31 को पूर्णिमा स्नान होगा। इस वर्ष 5 ग्रहण लगेंगे। यूं तो काफी लोग साल के पहले दिन कोई खर्च करने से घबराते हैं ताकि सारा साल खर्च ही न होता रहे, परंतु सिद्धि योगों में शुभ कार्य हेतु खरीदना लाभदायक रहता है। अत: यदि आप तारा डूबने के कारण विवाह संबंधी वस्तुएं नहीं खरीद रहे हों तो पहली जनवरी, सोमवार के दिन खरीद सकते हैं। शुभ मुहूर्त में खरीदारी करने से घर में धन और सुख-समृद्धि की वर्षा होने की संभावनाएं काफी बढ़ सकती है।



नया साल भगवान शिव के दिन सोमवार को मिथुन राशि, मृगशिरा नक्षत्र से आरंभ हो रहा है। इस दिन शनि, सूर्य तथा शुक्र ग्रह धनु राशि में होंगे और गुरु व मंगल तुला में एवं बुध-वृश्चिक राशि में रहेंगे। राहू कर्क तथा केतु मकर में होंगे। वृश्चिक, धनु व मकर राशि वाले साढ़ेसाती के प्रभाव में पहले से ही हैं।



इस साल 5 ग्रहण लगेंगे :

चंद्र ग्रहण - 31 जनवरी

सूर्य ग्रहण- 15/16 फरवरी

सूर्य ग्रहण- 13 जुलाई

चंद्र ग्रहण- 27/28 जुलाई

सूर्य ग्रहण-11 अगस्त