मुरैना । मुरैना के जिला अस्पताल में पिछले दो दिनों में अजब संयोग बना। दो महिलाओं ने तीन और चार बच्चों को जन्म दिया। दोनों मामलों में बच्चों का जेंडर एक ही है। कमला राजा अस्पताल (ग्वालियर) की गायनिक विभाग की प्रमुख डॉ. ज्योति बिंदल के अनुसार, यह असामान्य घटना है।


वहीं मुरार अस्पताल की गायनिक प्रभारी डॉ. साधना शिवहरे के मुताबिक, जिन महिलाओं को लंबे समय तक बच्चे नहीं होते, वे अक्सर दवाइयां लेती हैं। इससे एक से अधिक बच्चे होने की संभावना बढ़ जाती है। हालांकि सभी एक ही जेंडर के हों, यह चौंकाने वाली बात है।

बच्चों का जेंडर एक ही, डॉक्टर बोले-आश्चर्यजनक 

1.चार बेटियां सपना (रामपहाड़, सबलगढ़) ने शनिवार शाम चार बेटियों को जन्म दिया। उसे पहले दो बेटियां हैं। एक सात साल की, दूसरी दो साल की। मजदूरी करने वाले पति अमर सिंह राठौर ने बताया कि सोनोग्राफी से पता चला था कि गर्भ में चार बच्चे हैं।

2. तीन बेटे उसी अस्पताल में रविवार सुबह गिरिजा पति सूर्यभान जादौन (किशोरगढ़, सबलगढ़) ने तीन बेटों को जन्म दिया। यह उसका पहला प्रसव था। जिला अस्पताल के डॉ. बनवारीलाल गोयल के अनुसार बच्चों का वजन सामान्य (2.5 किलो) से कम है, इसलिए सभी को एसएनसीयू में भर्ती किया गया है।