छत्तीसगढ़ के सूखाग्रस्त इलाकों में इस साल गर्मी की छुट्टियों में भी बच्चों को मध्याह्न भोजन देने की तैयारी की जा रही है. राज्य सरकार ने प्रदेश के 96 तहसीलों को सूखाग्रस्त घोषित किया है. इन सूखाग्रस्त इलाकों में किसानों को राहत देने के प्रयास तो होंगे ही साथ ही स्कूलों में बच्चों को भी मध्याह्न भोजन का वितरण भी किया जाएगा.

 

सरकार के निर्देश के बाद गर्मी छुट्टियों में भी मध्याह्न भोजन को लेकर प्रशासनिक स्तर पर तैयारी शुरू कर दी गई है. लोक शिक्षण संचालक एस प्रकाश ने सभी कलेक्टरों को पत्र लिखकर मध्याह्न भोजन की व्यवस्था करने के निर्देश दे दिए हैं.

 

संचालक के निर्देश के बाद जिला स्तरों पर भी कवायद शुरू कर दी गई. मध्याह्न भोजन बनाने वाली समितियों से पत्राचार किया जा रहा है. छुट्टियां शुरू होने से पहले कवायद पूरी कर ली जाएगी.