खुशहाल शादीशुदा जिंदगी होने के बाद भी क्या किसी और को देखकर आपके दिल की घंटी बजी है? और क्या इसको लेकर आपके मन में गिल्ट भी आया है? रुकिए और गहरी सांस लीजिए क्योंकि यह बिल्कुल नॉर्मल बात है। अगर आपके साथ ऐसी ही सिचुएशन है तो ये पॉइंट्स आपके लिए मददगार हो सकते हैं...

मन में अपराधबोध लाने के बजाय समझिए कि किसी पर क्रश होना नॉर्मल है। भले ही आप कई सालों से दुनिया के सबसे बेहतरीन इंसान के साथ शादीशुदा जीवन बिता रहे हों, आपको उनसे ज्यादा क्यूट और फनी इंसान मिल सकता है। याद रखिए कि ये आने-जाने वाले इमोशंस हैं और आपको इन्हें मैच्योर तरीके से हैंडल करना चाहिए।

किसी और की तरफ आकर्षित होने का एक मतलब आपके रिश्ते में भावनात्मक खालीपन होना भी हो सकता है। अपने पार्टनर के साथ अच्छा वक्त बिताने से आप अपने क्रश के बारे में तुरंत भूल जाएंगे।

आप अपने क्रश को कैसे ट्रीट करते हैं यह बात भी काफी महत्वपूर्ण है। रूड या उदासीन बनने के चक्कर में ओवर-रिएक्ट न करें। यह भी जाहिर न करें कि आप उसके लिए पागल हो रहे हैं। सबसे अच्छा तरीका है कि नॉर्मल रहें।

एक बार यह जरूर विचार कर लें कि आपकी पार्टनर के साथ इक्वेशन कैसी है। कहीं ऐसा न हो कि वह अपने रिश्ते को लेकर असुरक्षित हो जाएं और यह भी हो सकता है कि वह इस मामले को हल्के में लें।

कई बार लोग फिजिकली अट्रैक्ट हो जाते हैं या कुछ वक्त के लिए ही टाइमपास करना चाहते हैं लेकिन इसे चीटिंग में गिना जाएगा। इससे पहले यह जरूर सोच लें कि अगर आपके पार्टनर ने ऐसा किया तो क्या आप माफ कर पाएंगे?

अगर आप बहुत कोशिश के बाद भी अपने क्रश के अट्रैक्शन से बाहर न आ पाएं तो यह वक्त आपके जीवनसाथी के साथ आपके संबंध के बारे में सोचने का है। क्या आपकी फीलिंग्स खत्म हो गई हैं या आप रिश्ते में कुछ और तलाश रहे हैं? क्या आपकी शादी से स्पार्क खत्म हो चुका है? जो मुद्दे आपको परेशान कर रहे हों उनके बारे में सोचें और सही समाधान निकालें।